Grameen News

True Voice Of Rural India

21 दिनों के लॉकडाउन में कोरोना नहीं भुखमरी मार देगी

1 min read
Corona

Children playing. Slum area in India

Sharing is caring!

हमारे देश में स्लम एरिया और रोड़ पर रहने वाले बेसहारा लोगों की कमी नहीं है. साथ ही हमारे देश की आबादी इस समय पूरी दुनिया के मुकाबले कई गुना ज्यादा है. यही वजह है कि, जहां देश के कई हिस्से से लोग Corona से हुए लॉकडाउन के बाद पैदल ही अपने घरों को निकल चुके हैं. वहीं अधिकतर लोग अपने घरों में ही कैद हैं. ऐसे में सरकार सभी की मदद के लिए हर संभव प्रयास कर रही है.
हालांकि उसके बाद भी कई हिस्से सरकार की नजर और प्रशासन की नजर से अछूते हैं. ऐसे में उत्तर प्रदेश के देवरिया में भी बीते रोज एक ऐसा ही मामला देखने को मिला जिसमें रोड़ पर रह रहे लोगों को इस समय जीना मुहाल हो चला है. जिसके बाद उनकी मदद के लिए वहां रह रहे मारवाडी लोग सामने आए और उन्होंने इंसानियत की मिसाल दी. मारवाड़ी समिति के लोगों ने इस दौरान लोगों को Corona virus से बचाने के साथ खाना खिलाने के लिए दो मीटर की दूरी पर गोला बना कर बैठाया और साथ खाना खिलाया.
रोड़ के आस पास रह रहे कुल 70 लोग को मारवाड़ी समिति के लोगों ने खाना खिलाया. साथ ही पूरी प्रक्रिया Corona से दूर रहने की भी की. इसके अलावा उन्हें चेताया भी. मारवाड़ी समिति के लोगों को ये निर्देश देवरिया के डीएम अमित किशोर की ओर से दिया गया था. जिसमें लोगों को भोजन कराने को कहा गया था. जिसके बाद उन्होंने अपनी जिम्मेदारियों का पालन करते हुए बाहर आकर रोड़ पर रह रहे लोगों को खाना खिलाया.
इसके साथ उन्होंने कहा कि, हम ये सेवा तब तक करते रहेंगे. जब तक देश में लॉक ड़ाउन है. ऐसे में जहां हमारे देश के कई हिस्से में ऐसी खबरे देखने को मिल रही हैं. वहीं पुलिस, डॉक्टर और सफाई कर्मी भी इस मुश्किल की घड़ी में भगवान बन सामने आए हैं.
Inspiring or positive stories पढ़ने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *