February 21, 2024

Grameen News

True Voice Of Rural India

कलयुग का अनोखा भात- लोगों को याद आया कृष्ण की कथाओं में वर्णित नरसी भात प्रसंग

भात
Sharing is Caring!

सतयुग में भगवान श्री कृष्ण जिस तरह नरसी का भात लेकर पहुंच गए थे ठीक वैसा ही कुछ हुआ है, शिवपुरी जिले के बदरवास जनपद के अंतर्गत आने वाले ग्राम एजवारा में भी.. जंहा आयोजित एक शादी समारोह में वधु के मामा ना होने और नाना के शादी में आने से इंकार कर देने की यह बात जब नोएडा के एक व्यवसायी को पता चली तो वो वहां भात लेकर पहुंच गया। इस व्यवसायी ने 9 तोला सोना, 1 किलो चांदी, 300 से अधिक साड़ी, 1 लाख नगद और सभी गांव वालों को तौलिया भेंट कर सम्मान सहित भात पहनाया।

दरअसल एजवारा गांव के थान सिंह यादव की बिटिया की शादी थी लेकिन दुल्हन के सगे मामा नहीं होने से “भात पहनाते भात पहननाने” की रस्म न होने से सभी चिंतित थे। जब शादी की तारीख नजदीक आई तो दुल्हन की मां को अपने पिता की याद सताने लगी। इस बीच तलाश करने पर लड़की का नाना उत्तर प्रदेश में साधु का रूप धारण किए हुए मिला। मगर सन्यासी बन चुके पिता ने अपनी बेटी और दामाद को कोई भी सहायता देने से साफ इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि वो अब सन्यासी जीवन धारण कर चुके हैं जिसके चलते वो अब शादी समारोह में शामिल नहीं हो सकते। बेटी ने अपने पिता से रोते हुए विनती की उनके आगे हाथ तक जोड़े लेकिन साधु ने अपने बेटी की एक ना सुनी और भात देने से मना कर दिया।

जब ये वाक्य हो रहा था तब वहां मौजूद एक फुटवियर व्यापारी गोविंद सिंघल इसके आंखों देखे गवाह बने। बस तभी उन्होंने उसी समय फैसला किया कि जिस तरह से भगवान कृष्ण की कथाओं में वर्णित नरसी भात प्रसंग में भात पहनाया गया था, उसी तरह मैं भी इस बहन को भात पहनाने जाउंगा। गोविंद सिंघल के इस फैसले में उनका परिवार भी खुशी-खुशी सहमत हुआ। बीते 21 नवंबर को नोएडा के निकट से शादी में चढ़ाए जाने वाले भात का सामान लेकर रवाना हुए। शादी में दुल्हन के लिए जो सामान भात में आया, उसमें करीब 9 तौले सोने के जेवर, 1 किलो चांदी के जेवर, एक स्मार्ट फोन दूल्हे के लिए, 1 लाख नगदी, करीब 350 साडिय़ां गांव की सभी महिलाओं के लिए लाई गई।

ये खबर ग्रामीण न्यूज के पाठक व जनता पत्रकार गिरीराज धाकड़ द्वारा लिखी गई है।

खेती-बाड़ी और किसानी से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

https://www.youtube.com/c/Greentvindia/videos

Positive And Inspiring Stories पढ़ने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

http://Hindi.theindianness.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © Rural News Network Pvt Ltd | Newsphere by AF themes.