Grameen News

True Voice Of Rural India

आर्थिक सुस्ती के बावजूद इस ट्रैक्टर कंपनी की बाजार में पकड़ मजबूत

1 min read
आर्थिक सुस्ती के बावजूद इस ट्रैक्टर कंपनी की बाजार में पकड़ मजबूत

आर्थिक सुस्ती के बावजूद इस ट्रैक्टर कंपनी की बाजार में पकड़ मजबूत

Sharing is caring!

देश में ऑटो सेक्टर में चल रही आर्थिक सुस्ती से बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनियां इस समय परेशान हैं। इस समय ऑटो सेक्टर परेशानियों से जूझ रहा है, हालांकि सरकार भी कई बार ऑटो सेक्टर को राहत देने कि बात कर चुकी है। लेकिन इस आर्थिक सुस्ती के बावजूद भी कुछ कंपनियां अच्छा कर रही है। ट्रैक्टर बनाने वाली स्वदेशी भारतीय कंपनी इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (सोनालिका ट्रैक्टर्स) ने इस स्थिति में भी मार्केट में अपनी पकड़ को मजबूत किया है।

एग्री उड़ान के लिए स्टार्टअप 6 अक्टूबर से पहले करें आवेदन

सोनालिका ट्रैक्टर 2 प्रतिशत कि बढ़ोतरी पर

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से अगस्त तक ऑटो सेक्टर में कमी दर्ज की गई है। लेकिन इसके बावजूद सोनालिका ट्रैक्टर्स की मार्केट व्लैयू में कोई कमी नहीं आई है। इस दौरान इंटरनेशनल ट्रैक्टर्स लिमिटेड (सोनालिका ट्रैक्टर्स) ने 2 प्रतिशत कि बढ़ोतरी की है। सोनालिका ट्रैक्टर भारत की दिग्गज ट्रैक्टर निर्माता कंपनी है। यह कंपनी हर साल कई लाख ट्रैक्टरों का निर्माण करती है। सोनालिका ट्रैक्टर्स देश की तीसरी सबसे बड़ी ट्रैक्टर निर्माता कंपनी है। शुरू से ही किसानों का इस कंपनी पर भरोसा रहा है। यहीं कारण है कि सोनालिका ग्रुप साल दर साल प्रगती कर रहा है।

इस साल कंपनी कि ग्रोथ पर सोनालिका के कंट्री हेड कंट्री हेड विवेक गोयल इस बारे में कहते हैं कि इस बार मानसून बेहतर रहा है और खरीफ की फसल भी बेहतर होने वाली है। सरकार ने कॉरपोरेट टैक्स में भी कमी की है। कुल मिलाकर सेंटिमेंट काफी मजबूत है। नतीजतन, आगामी त्योहारी सीजन में कंपनी को जबरदस्त बढ़ोतरी मिलने की उम्मीद है। ज्ञात रहे कि साल 2017 में सोनालिका ने पंजाब के होशियारपुर में अपने नए ट्रैक्टर मैन्युफैक्चरिंग प्लांट को लांच किया था। यह प्लांट ऑटोमैटिक और विश्वस्तरीय तकनीक से लैस है।

किसान कृषि यंत्रों पर अनुदान के लिए 30 सितम्बर तक करें आवेदन

इस प्लांट की क्षमता हर साल 3 लाख ट्रैक्टर तैयार करने की है। विवेक गोयल का कहना है कि कंपनी ने किसानों की जरूरत को ध्यान में रखते हुए बीस से 120 हॉर्सपावर के ट्रैक्टर बाजार में उपलब्ध करवाए हैं। साथ ही विश्व के 120 देशों में ट्रैक्टरों का निर्यात किया भी किया जा रहा है। वे कहते हैं कि भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए कंपनी ने पिछले दिनों अपनी उत्पादन क्षमता में इजाफा किया है। अभी कंपनी के पास तीन लाख ट्रैक्टर बनाने की क्षमता है। इस क्षमता का पचास फीसद तक ही उपयोग किया जा रहा है।

विदेशों में भी निर्यात कर रही है कंपनी

कंपनी कुल उत्पादन का बीस से पच्चीस प्रतिशत तक कर रही है, जबकि घरेलू बाजार में सोनालिका लगातार बढ़ता जा रहा है। विवेक गोयल कहते हैं कि हाल ही में कंपनी ने यूरोपियन डिजाइन से तैयार नेक्स्ट जनरेशन टेक्नोलॉजी का ट्रैक्टर टाइगर भी लांच किया। इसके अलावा डीआइ 60 सिकंदर डीएलएक्स और डीआइ 750 सिकंदर डीएलएक्स मॉडल्स के ट्रैक्टर्स भी पेश किए। सोनालिका ट्रैक्टर ने शुरुआत से ही किसानों के मध्य अपनी एक अलग पहचान बनाई है और किसानों का विश्वास बनाए रखा है।

खेती-बाड़ी से जुड़ी सभी जानकारियों के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

https://www.youtube.com/channel/UCBMokPDyAV7Pf4K9DGYbdBA

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *