True Voice Of Rural India

History Of 25th August -नील आर्मस्ट्रांग का निधन

1 min read
History Of 25th August

History Of 25th August-नील आर्मस्ट्रांग का निधन

Sharing is caring!

इतिहास के पन्नों को पलटकर देखें तो हर दिन कुछ-ना कुछ ऐसा जरूर हुआ है जिसे एतिहासिक मानकर हमेशा के लिए इतिहास की किताब में दर्ज कर लिया गया था। जैसे आज यानि की 25 अगस्त के दिन जहां एक तरफ मुंबई बम धमाको से दहल गई थी, तो वहीं दूसरी तरफ भारतीय पोलो टीम ने विश्व विजेता बनकर भारत का नाम रोशन किया था हालांकि, इसके अलावा भी आज के दिन बहुत सी घटनाओं को अंजाम मिला था..

चलिए एक बार विस्तार से जानते हैं आज के इतिहास के बारे में..

  1. 25 अगस्त का दिन मुंबई के इतिहास में काले इतिहास के तौर पर भी जाना जाता है। साल 2003 में आज ही के दिन मुंबई में दो कार बम धमाके हुए थे। जिनमें से पहला बम धमाका गेटवे ऑफ़ इंडिया और दूसरा बम धमाका झवेरी बाज़ार में हुआ था। इस धमाके मे करीब 50 लोगों की मौत हुई थी, जबकि, सैकड़ों लोग घायल हुए थे।
  2. 25 अगस्त 2011 को श्रीलंका के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने संसद में आपातकाल हटाने की घोषणा कर दी थी। आपको बता दें कि, आज ही के दिन श्रीलंका की सरकार ने देश में तीन दशकों से चले आ रहे आपातकाल को ख़त्म करने की घोषणा की थी. ये आपातकाल उस दौरान देश में लगा जब देश की सेना और तमिल विद्रोहियों के बीच टकराव शुरू हो गया था।
  3. 25 अगस्त का दिन भारतीय खेल के इतिहास में बहुत सुनहरा रहा है। क्योंकि, साल 1957 में आज ही के दिन भारत पोलो विश्व चैंपियनशिप में विश्व विजेता बना था. आपको बता दें कि, इस टीम का नेतृत्व जयपुर के महाराजा सवाई मान सिंह द्वितीय कर रहे थे। इनकी कप्तानी में ही भारत ने विश्व कप जीतकर देश का नाम रौशन किया।
  4. आज ही के दिन साल 1819 में स्टीम इंजन की खोज करने वाले जेम्स वाट का निधन हो गया था। आपको बता दें कि, उन्हें ब्रिटेन में होनी वाली औद्योगिक क्रान्ति का जनक भी कहा जाता है।
  5. 1867 में आज ही के दिन माइकल फैराडे का निधन हुआ था। आपको बता दें कि, माइकल फैराडे एक भौतिक वैज्ञानिक थे। जिन्होंने विद्युत धारा के चुम्बकीय प्रभाव का आविष्कार किया था।
  6. आज ही के दिन साल 2012 में चांद पर पहला कदम रखने वाले दुनिया के पहले शख्स नील आर्मस्ट्रांग का निधन हुआ था। आपको बता दें कि, अंतरिक्ष यात्री बनने से पहले उन्‍होंने अमेरिकी नेवी की तरफ से कोरियाई युद्ध में हिस्‍सा लिया था। नील ने 16 साल की उम्र में ही पायलट लाइसेंस हासिल कर लिया था. वो नासा के पहले नागरिक अंतरिक्ष यात्री थे।

 

किसानों और गांवों से जुड़ी खबरों के लिए नीचे दिए लिंक को सब्स्क्राइब करें-

https://www.youtube.com/channel/UCBMokPDyAV7Pf4K9DGYbdBA

HISTORY OF 24TH AUGUST को वीडियो रूप में देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *