हैदराबाद: बेटा अमेरिका में आर्किटेक्ट, और फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने वाली मां मांग रही है भीख….

प्रतीकात्मक फोटो

 

आजकल का युवा इतना भौतिकवादी हो गया है कि आगे बढ़ने की होड़ में वो अपने खून के रिश्तों को ही पीछे छोड़ता चला जा रहा है। किसी और की बात क्या करें जिस माँ को भगवान् का दर्जा दिया जाता हो, जिसकी पूजा की जाती हो आज तो वही माँ भूखी प्यासी दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं। कुछ ऐसा ही वाक्या सामने आया है हैदराबाद से जहां आजकल सड़कों पर एक मां सड़कों पर भीख मांगने को मजबूर है, जबकि उसका बेटा अमेरिका में आर्किटेक्ट है।

दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप “ग्लोबल एंटरप्रेन्योशिप समिट 2017” में भाग लेने भारत आ रही हैं। हैदराबाद आ रही हैं। ऐसे में पुलिस और प्रशासन पॉश इलाके से भिखारियों को हटा कर रिहैबिलिटेशन सेंटर में भेज रहा है। इसी कार्रवाई के दौरान 50 साल की फर्जोना और 44 साल राबिया बसीरा लांगेर हौज में एक दरगाह के पास भीख मांगते हुए पकड़ा और उन्हें 1 नवंबर को चेरालापल्ली जेल के आनंद आश्रम लाया गया।

यहां जब दोनों महिलाओं ने आपस में फर्राटेदार अंग्रेजी में एक दूसरे से बात की तो आश्रम के कर्मचारी ये देख कर हैरान रह गए। जिसके बाद आश्रम के कर्मचारियों को ये भी पता चला कि इन महिलाओं के पास एमबीए की डिग्री है और उनमें से एक अमेरिका में अकाउंटेंट रह चुकी है। जिसके बाद आश्रम के कर्मचारियों ने पुलिस को सारी जानकारी दी। वहीं महिला के बारे में पड़ताल के बाद खुलासा हुआ कि ये महिलाएं सिर्फ पढ़ी-लिखी ही नहीं हैं बल्कि अमीर घरानों से ताल्लुक रखती हैं। यही नहीं इनमें से एक महिला का बेटा अमेरिका में आर्किटेक्ट है। वहीं पकड़ी गई दूसरी महिला राबिया के पास ग्रीन कार्ड है और वो अमेरिका में काम कर चुकी हैं। दूसरी महिला ने बताया कि उसके रिश्तेदारों ने पैतृक संपत्ति में उसके हिस्से को लेकर धोखाधड़ी की जिसके बाद वो मानसिक संतुलन खो बैठी और उन्होंने भीख मांगना शुरू कर दिया। पुलिस ने एफिडेविट भरवाकर फर्जोना को उनके बेटे को सौंप दिया है। राबिया को भी उसके परिवार वालों को सौंप दिया गया है।

 

 

 

 

 

 

 

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password