गरीबों के मसीहा हैं ये उद्योगपति, गांव को बना दिया बिलकुल शहर जैसा

गरीबों के मसीहा हैं ये उद्योगपति, गांव को बना दिया बिलकुल शहर जैसा

गरीबों के मसीहा हैं ये उद्योगपति, गांव को बना दिया बिलकुल शहर जैसा  दिल्ली के उद्योगपति संजय डालमिया का डालमिया सेवा ट्रस्ट झुंझनु के चिरावा तहसील में आने वाले एक गांव में 14 सालों से काम कर रहा है। इनका मकसद लोगों की भलाई और उनका जीवन स्तर ऊपर उठाना है। ये ट्रस्ट इस्लाइलपुर गांव में 2004 से ही शिक्षा, पर्यावरण, जल संरक्षण, सेहत और स्वच्छता के क्षेत्र में विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं पर काम कर रहा है। साथ ही ये ट्रस्ट इस गांव में साफ-सफाई का ध्यान रखता है यही नहीं गांववालों को पीने योग्य साफ पानी मुहैया करवाता है। ये ट्रस्ट लड़कियों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करने और स्कूलों में दोपहर के भोजन का प्रबंध करने जैसी कई योजनाएं चला रहा है।

यही नहीं ये ट्रस्ट पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए पेड़ लगाने के काम भी कर रहा है। ट्रस्ट उन 100 घरों में शौचालय बनवा रहा है। डीएसटी ने चिरावा में करीब 100 बेघर परिवारों के लिए घर भी बनाए हैं। आंखों की विभिन्न बीमारियों और अस्थमा के इलाज के लिए मुफ्त हेल्थ कैंप भी आयोजित करता है। ट्रस्ट ने अब तक 125 शौचालय बनाए हैं और गांव में 75 टॉयलेट और बनवाए जा रहे हैं। ये सारा काम मोदी सरकार के स्वच्छ भारत अभियान शुरू होने से पहले से ही किया जा रहा है। सबसे बड़ी तो ये है कि समाज सेवा के ये सभी कार्यों का संचालन और प्रबंधन डालमिया सेवा ट्रस्ट की ओर से अपने संसाधनों से ही किया जाता है। उन्हें राज्य प्रशासन या किसी बाहरी एजेंसियों से किसी तरह की मदद नहीं मिलती।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password