दिल्ली की हवा में घुला ज़हर, बढ़ते प्रदूषण को रोकने के लिए हेलीकॉप्टर से करवाई जाएगी कृत्रिम बारिश

‘दिल वालों की दिल्ली’ सुनने में जितना अच्छा लगता है. देखने में भी काश ये सच में दिल वालों की दिल्ली होती है. दिल्ली की हवा तरोताज़ा होने की बजाय ज़हरीली हो गई है. लेकिन अब इसमें सरकार दोषी मत ठहराएगा. जी हां लाख मना करने के बावजूद यहां तक की सुप्रीम कोर्ट द्वारा पटाखों पर बैन लगाने के बाद भी दिल्ली वालों ने जमकर पटाखे के धुएं से पूरे शहर प्रदूषित किया. और अब हालत ये हैं कि पूरा पर्यायवरण प्रदूषित है. वहीं अब सरकार इस प्रदूषण को कम करने के लिए हेलीकॉप्टर या चॉपर के द्वारा पानी का छिड़काव या कृत्रिम बरसात करवाई जाएगी.

जी हां, दिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ हर्षवर्धन को पत्र लिखकर कहा है कि केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय दिल्ली में पानी छिड़काव के लिए केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय से हेलीकॉप्टर या चॉपर की व्यवस्था कराए ताकि इस प्रयोग के द्वारा प्रदूषण को काबू किया सके. साथ ही उन्होनें कहा है कि हवा में बारीक धूल के कण खतरनाक स्तर तक बढ़े हुए हैं जो सामान्य लोगों को भी बीमार बना सकते हैं। कई कारणों से दिल्ली में वायु प्रदूषण खतरनाक स्थिति में है। वहीं पंजाब और हरियाणा में फसल अवशेषों के जलाए जाने के कारण भी दिल्ली में वायु गुणवत्ता बेहद ही गंभीर स्थिति से गुजर रही है।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password