बेंगलुरु : टोकन घर उठा ले गए यात्री, मेट्रो को हुआ 35 लाख रुपये का नुकसान

सरकार ने मेट्रो सेवा आम जनता के सफर को आसान बनाने के लिए शुरू की है। लेकिन वही कुछ लोग ऐसे भी हैं जो मेट्रो को ही नुकसान पहुंचा रहे हैं। जी हाँ, दरअसल बेंगलुरु मेट्रो जनता की वजह से हुए 35 लाख रुपए के नुकसान की भरपाई में लगी हुई है। क्योंकि मेट्रो में सफर करने वाले यात्री 20 अक्टूबर 2011 से लेकर अब तक कुल 1.74 लाख टोकन अपने साथ ले जा चुके हैं। इन टोकनों को ले जाने से मेट्रो को 35 लाख रुपये का नुकसान हो चुका है।

कई सारे यूजर्स एक्स्ट्रा टोकन खरीदते हैं और एक टोकन से एंट्री-एग्जिट करते हैं, बाकी टोकन वो अपने साथ घर लेकर चले जाते हैं। मेट्रों अधिकारियों को शक है कि टोकन का शानदार डिजाइन देखकर लोगों को ये काफी पसंद आता है इसलिए लोग ऐसा करते हैं। टोकन खोने पर पहले 50 रुपये जुर्माना लगता था लेकिन अब इसे बढ़ाकर 200 रुपये कर दिया गया है शायद ये वजह भी हो सकती है कि लोग अपने टोकन खोने की जानकारी नहीं देते और धोखे से बिना टोकन का इस्तेमाल करे ही निकल जाते हो। पिछले 7 साल से टोकन चोरी रोकने के लिए बेंगलुरु मेट्रो के अफसर लाख कोशिश कर चुके हैं, लेकिन अब तक उन्हें कोई कामयाबी हासिल नहीं हुई है.

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password