कानपुरः नोटबंदी के बाद सबसे बड़ी छापेमारी, बिल्डर के घर से 100 करोड़ के पुराने नोट बरामद

नोटबंदी के करीब 14 महीने बीतने के बाद एएनआई और कानपूर पुलिस ने एक बिल्डर के घर से करीब 100 करोड़ के पुराने नोट जब्त की है। यही नहीं पुलिस ने 16 लोगों को गिरफ़्तार किया है। ये सभी नोट 500 और 1000 रुपये के बंद हो चुके नोट हैं। इन सभी नोटों का एक बेड बनाया गया था।

दरअसल पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ लोग शहर के बड़े व्यापारी बिजनेसमैन और बिल्डर अशोक खत्री के घर छिपाकर रखे गए पुराने नोट लेने आए हैं। जिसके बाद पुलिस ने इनको गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अलावा आयकर विभाग की टीम भी गिरफ्तार लोगों से पूछताछ कर रही है।

एसएसपी का कहना है कि मामले के मुख्य आरोपी आनंद खत्री काफी अमीर परिवार से संबंध रखते हैं और वह नोटबंदी के बाद से ही 20 से 25 प्रतिशत के एवज में लोगों का पुराना पैसा बदलने का झांसा देते थे। हालांकि आनंद को ये राशि जहां से बदलवानी थी वहां काम नहीं हो सका जिस वजह से पैसा घर में इकट्ठा होता गया।

 

आपको बता दें कि 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोटों को प्रतिबंधित कर दिया था. इसके बाद आरबीआई ने 500 और 2000 हजार रुपये के नए नोट जारी किए थे. 31 मार्च पुराने नोट बैंक में जमा करने की आखिरी तारीख थी. नोटबंदी के 14 महीने बाद 97 करोड़ के 500 और हजार के पुराने नोट मिले हैं.

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password