महिला दिवस विशेष : गांव से पलायन रोकने के लिए लोगों को जागरूक कर रही हैं पूनम

8 मार्च को पूरे विश्व में एक साथ महिला दिवस मनाया जा रहा है। बैंकिंग, आईटी, मेडिकल, शिक्षा, इंजिनियरिंग, बिजनेस और उद्यमिता हर क्षेत्र में महिलाओं ने अपनी योग्यता का लोहा मनवाया है। वहीं देशभर में 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में हर साल लड़कियां, लड़कों पर भारी पड़ती हैं। महिला दिवस के मौके पर हम आपको एक ऐसी ही महिला की कहानी बता रहे हैं जो अपनी मेहनत और कारोबारी जज्‍बे से लगातार अपने गांव की महिलाओं को आगे बढ़ाने और पलायन को रोकने के लिए कार्य कर रही हैं।

झारखंड के गुमला जिले से 10 किलोमीटर की दूरी पर बसे गांव जुंगाटोली की रहनेवाली मुक्‍ता पूनम बारला लगातार गांव की महिलाओं को आगे बढ़ने के प्रोत्‍साहित कर रही हैं। मुक्‍ता पूनम बारला महिला मंडल की सदस्‍या हैं। वो सरकार द्वारा चलाये जा रहे सभी योजनाओं के बारे में गांव के लोगों को जानकारी दे रही है साथ ही इसका लाभ उन्‍हें मिले इसके लिए भी लगातार प्रयास कर रही हैं।

मुक्‍ता की कोशिशों से महिलाएं अब आत्मनिर्भर बनने की तरफ बढ़ रही हैं और अपने गाँव में रोजगार प्राप्त करने के तरीके ढूंढने का प्रयास कर रही हैं।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password