Uttar Pradesh bulletin 18th February 2019- शहीद के घर पहुंचे सूफी कैलाश खेर

Uttar Pradesh bulletin 18th February 2019

Uttar Pradesh bulletin 18th February 2019 में आज की बड़ी खबरें

1.. गोरखपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटमाफ नम्बर एक पर गेट के सामने ही बम पड़े होने की सूचना पर रविवार की रात तकरीबन 3 घंटे तक हड़कम्प मचा रहा। बम की सूचना पाकर RPF और GRP के साथ ही सिविल पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस की जांच में मालूम हुआ कि वहां चार रेडियो पड़ी थी जो एकदम नई और पैक थी। इसके बाद पुलिस कर्मियों और यात्रियों ने राहत की सांस ली।

2.. सूफी गायक कैलाश खेर रविवार की दोपहर शहीद विजय के गांव छपिया जयदेव पहुंचे। उन्होंने शहीद के पिता, पत्नी व परिवार वालों से मिलकर बात की। पत्नी विजयलक्ष्मी को हिम्मत देते हुए बच्ची को अच्छी परवरिश देने की सीख दी। वे बोले ‘गई- गई को जान दे, रई-रई को थाम’। कैलाश खेर ने विजयलक्ष्मी को पांच लाख व शहीद के पिता रमायन को पांच लाख का चेक दिया

3.. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट रविवार को शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट के आवास पर पहुंचे। यहां उन्होंने मेजर चित्रेश के पिता एसएस बिष्ट को हिम्मत दी। मुलाकात के बाद दुखी आनंद सिंह बिष्ट ने कहा कि भारत ने जो मिसाइलों बना रखी हैं, वह किस दिन काम आएंगी। अब वक्त आ गया है कि इन मिसाइलों से पाकिस्तान को खत्म कर दे…

4.. पिपराइच चीनी मिल का निरीक्षण कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हेलीपैड पर पहुंचे तो वहां बच्चों के प्रति उनके स्वाभाविक प्रेम का नजारा दिखा। बच्चों को न केवल उन्होंने अपने पास बुलाया और उनसे बातें की ब्लकि उन्हें अपने हेलिकाप्टर में बैठने का सुख भी प्रदान किया। मुख्यमंत्री की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मी भी हैरान रह गए। बच्चे भी बच्चे, सीएम की इजाजत मिलते ही हेलीकाप्टर में बैठ गए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चेहरे पर मुस्कराहट गहरा गई। तकरीन डेढ़ मिनट तक हेलीकाप्टर में बैठने के बाद बच्चे नीचे उतरे। उन्होंने मुख्यमंत्री को थैक्यू बोला तो सीएम हंस पड़े। उसके बाद मुख्यमंत्री का हेलिकाप्टर महराजगंज के लिए उड़ान भर गया।

5.. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओम प्रकाश राजभर से शुक्रवार की रात को करीब घंटे भर बात की। राजभर की शिकायतों को गंभीरता से सुना। इस बातचीत के दौरान राजभर द्वारा पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग का प्रभार वापस करने की पेशकश को मुख्यमंत्री ने खारिज कर दिया।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password