चारा घोटाला के चौथे केस में लालू यादव को 7 साल की सजा

आज चारा घोटाले के चौथे मामले में रांची की एक विशेष सीबीआई अदालत ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद को 7 साल की सजा सुनाई गई है। यही नहीं इसके अलावा उन्हें 60 लाख का जुर्माना भरने को भी कहा गया है और अगर लालू यादव जुर्माना नहीं भर पाते हैं तो एक साल उनकी सजा और बढ़ जाएगी। न्यायाधीश शिवपाल सिंह ने दिसंबर 1995 से जनवरी 1996 तक दुमका कोषागार से फर्जी तरीके से 3.13 करोड़ रुपये निकालने के मामले में ये फैसला सुनाया।

आपको बता दें कि चारा घोटाले के चौथे मामले में यहां की एक विशेष सीबीआई अदालत ने लालू प्रसाद को दोषी करार दिया था। वहीं इसी मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा को बरी कर दिया गया था।

गौरतलब है कि इससे पहले इसी वर्ष 24 जनवरी को लालू प्रसाद एवं जगन्नाथ मिश्र को सीबीआई की विशेष अदालत ने चाईबासा कोषागार से 35 करोड़, 62 लाख रुपए का गबन करने के चारा घोटाले के एक अन्य मामले में दोषी करार देते हुए पांच-पांच साल की सश्रम कारावास और दस लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनायी थी। सीबीआई की विशेष अदालत ने चारा घोटाले के चाईबासा मामले में कुल 50 आरोपियों को दोषी करार देते हुए सजा सुनायी थी।

 

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password