35 हजार किसान पहुंचे मुंबई के करीब, 12 मार्च को करेंगे महाराष्ट्र विधानसभा का घेराव

महाराष्ट्र सरकार की वादाखिलाफी के विरोध में हजारों किसानों का लॉन्ग मार्च महाराष्ट्र में नासिक से चलकर अब ठाणे जिले तक पहुंच गया है। नासिक से 6 मार्च को निकला करीब 30 हजार किसानों का ये मोर्चा अभी ठाणे जिले में हैं। किसान नेताओं का दावा है कि 12 मार्च को लाखों किसान महाराष्ट्र विधानसभा का घेराव करेंगे। ठाणे में हर जगह आंदोलनकारी किसान ही किसान नजर आ रहे हैं। किसानों का कहना है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होंगी वो आंदोलन खत्म नहीं करेंगे।

आपको बता दें कि किसानों की मुख्य मांग तो कर्जमाफी ही है इसके अलावा इनकी प्रमुख मांगें ये हैं- किसानों को फसल का डेढ गुना भाव मिले, स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू हों, कपास के कीड़े से हुए नुकसान और ओले गिरने से हुए नुकसान के चलते किसानों को हर एकड पर 40 हजार मुआवजा दिया जाए, किसानों का बिजली का बिल माफ किया जाए।

दरअसल मई 2017 में महाराष्ट्र के किसानों ने एक बडा आंदोलन करके सरकार से क़र्ज़ माफ़ी का माँग की थी। आंदोलन के दबाव में आकर सरकार ने 5 एकड़ से कम जमीन वाले किसानों का सारा पुराना कर्ज माफ़ करने का निर्णय लिया और नया कर्ज तुरंत देने का निर्णय लिया। जिसका स्वागत किसान नेताओं ने किया था। लेकिन किसानों का आरोप है कि सरकार ने 34,000 करोड़ का क़र्ज़ माफ़ करने की घोषणा की थी लेकिव वास्तव में पिछले सात महीनों में केवल 13700 करोड़ का ही क़र्ज़ माफ़ किया गया। ऐसे में किसानों का ये आंदोलन फडणवीस सरकार के लिए बड़ी मुश्किल जरूर खड़ी करेगा।

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password