ग्रामीणों की एकता और सहयोग से दिव्यांग सीमा बनी आगनबाड़ी सेविका

ग्रामीणों की एकता और सहयोग से दिव्यांग सीमा बनी आगनबाड़ी सेविका

ग्रामीणों की एकता और सहयोग से दिव्यांग सीमा बनी आगनबाड़ी सेविका

चास बोकारो : चास प्रखंड के आमाडीह गांव की महिलाओं ने एक दिव्यांग महिला पर अपना भरोसा जताते हुए सेविका पद के लिए इंटर पास दिव्यांग सीमा कुमारी का चयन किया है। आपको बता दें कि प्राथमिक विद्यालय आमाडीह में ग्रामीण ज्योति कुमारी गुप्ता की उपस्थिति में आमसभा हुई। इस सभा आयोजन आंगनबाड़ी सेविका चयन करने को लेकर किया गया। इस आम सभा के दौरान कुल सात आवेदन प्राप्त हुए थे । जिसमें से 6 आवेदक स्नातक और एक आवेदक इंटर पास के थे।

गौरतलब है कि चयन समिति द्वारा बताया गया कि सेविका पद के लिए इंटर पास दिव्यांग सीमा कुमारी का चयन किया गया है। यही नहीं चयन सदस्यों ने भी आपसी सूझबूझ से इसपर सहमति जतायी है। आपको बता दें कि कि सेविका पद के लिए आमाडीह गांव में तीन बार आम सभा के बाद जाकर ये चयन हुआ है। इस सभा में चास प्रमुख सरिता देवी, उपप्रमुख नित्यानंद सिंह चौधरी, जिप सदस्य मौजूद रहे। इस तरह के आयोजन में सभी की सहमति से एक दिव्यांग महिला को चुने जाने के बाद वाकई चास बोकारो के अमाडीह गांव के लोगों ने इंसानियाक की एक मिसाल पेश की है। जबकि बाकी लोग अपना दावा रख सकते थे और चयन प्रक्रिया पर सवाल उठा सकते थे मगर सभी ने सहमति से ये निर्णय लिया। जिससे अब गांव की एक दिव्यांग महिला को आत्मविश्वास के साथ सर उठा कर काम करने का मौका मिला।

 

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password