BCCI के लिए कमाई का मुख्य स्रोत बन रहा IPL, इस बार हो सकता है 2000 करोड़ का मुनाफा

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल), बीसीसीआई कि कमाई का मुख्य स्रोत साबित होता जा रहा है। आईपीएल कि शुरूआत 2008 में हुई थी। 2008 से लेकर अब तक आईपीएल के द्वारा बीसीसीआई कि कमाई कई गुना बढ़ चुकी है। इस बार इस बोर्ड की कमाई को 2000 के मुनाफे का अनुमान लगाया जा रहा है।

बीसीसीआई ने बताया कि आगामी वित्त वर्ष में आईपीएल से करीब 2,017 करोड़ रूपय का मुनाफा हो सकता है और घरेलू व अतंरार्ष्ट्रीय क्रार्यक्रमों से 125 करोड़ रूपय का मुनाफा हो सकता है। बीसीसीआई को 320 दिनों के कार्यक्रमों कि तुलना में 45 दिनों के आईपीएल कार्यक्रमों से करीब 16 फीसदी मुनाफा ज्यादा होता है। यह मुनाफा कार्यक्रमों पर होने वाले खर्च और   जरूरी निर्माण से अलग होता है।

मौजूदा समय में बीसीसीआई को आईपीएल से 60 प्रतिशत मुनाफा हो रहा है। यह करीब 670 करोड़ रूपय है। बोर्ड इस मुनाफे को करीब 60-95 प्रतिशत तक ले जाना चाहता है। पिछले आईपीएल में बीसीसीआई को     करीब 400 करोड रूपय का लाभ हुआ था पर इस बार 2,017 करोड़ का अनुमान लगाया जा रहा है। इस बार बीसीसीआई को कुल खर्च के बाद 665 करोड रूपय का अनुमान लगाया जा रहा है और प्रशासनिक सेवा पर करीब 19 करोड रूपय का खर्च होंगे जो पिछले वर्ष करीब 51 करोड़ रूपय था।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password