सरकार ने किया अनसुना तो किसानों ने पहाड़ खोद खेतों तक ख़ुद पहुंचाया पानी

छत्‍तीसगढ़ के धमतरी जिले के किसानों की मेहनत और जज़्बे को सलाम करते हुए जिला प्रशासन ने उनकी गुहार सुन ली है। दरअसल किसानों की नाला निर्माण के लिए धन राशि की मांग को जिला प्रशासन ने स्वीकृति दे दी है।
आपको बता दें कि मगरलोड इलाके के किसान सालभर मानसून पर ही निर्भर रहते हैं। मगर इस बार बारिश नहीं हुई तो ये किसान एक-एक दाने के लिए तरस गए। प्रशासन से कोई मदद ना मिलने और इस भुखमरी की स्थिति को देख झाझरकेरा, धनबुड़ा, देवगांव और भालुचुआ जैसे कई गांवों के किसानों ने एकजुट होकर गांव से 5 किमी दूर घने जंगल से बह रहे नाले के पानी को खेतों तक लाने की ठानी और मेहनत, लगन और जज़्बे से पहाड़ काटकर खेतों तक पानी पहुंचा मुमकिन कर दिखाया।
वहीं अब जिला प्रशासन भी किसानों की मदद को आगे आया और 2 लाख 29 हजार की लागत से नाला निर्माण करवाने का आश्वासन दिया। गांव से लगे स्टॉप डैम से एक किमी तक नाला बनेगा, जिससे चारों गांव के लगभग 3 हजार एकड़ खेतों में पानी पहुंचना अब मुमकिन हो पाएगा। जहां जंगल का पानी हर साल बारिश में बेकार बह जाता था वहीं अब इस पानी से चार गांव के किसानों के खेतों की प्यास बुझ सकेगी।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password