भारत का पहला स्मार्ट गांव बना राजस्थान का धनौर गांव

देश का पहला स्मार्ट गांव

आपने स्मार्ट फोन, स्मार्ट सिटी के बारें में तो बहुत सुना होगा, लेकिन आज हमको बतायेंगे, स्मार्ट गांव के बारे में। दरअसल, राजस्थान के धौलपुर जिले का धनौर गांव देश का पहला स्मार्ट गांव बनकर सामने आया है। बता दें कि, इस गांव को आदर्श ग्राम सम्मान कैटेगरी में 19, 324 वोट के साथ पहला स्थान मिला है।

जानकारी के लिए बता दें कि, पिछले महीने ही इस गांव को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उपराष्‍ट्रपति वैंकेया नायडू द्वारा सम्मानित किया गया था। इसी के साथ, इस कैटेगरी में राजस्‍थान के राजसमंद इलाके का पिपलांत्री गांव को दूसरे स्‍थान पर रखा गया था।

आपको बता दें कि, राजस्थान के धौलपुर का धनौरा गांव जिला मुख्यालय से करीब 30 किमी की दूरी पर बसा हुआ है। इस गांव की आबादी दो हजार के करीब है। जहां देश के कई गांवों में मूलभूत सुविधाएं तक नहीं हैं, वहीं इस गांव में आज कम्यूनिटी हॉल, चौड़े रास्ते, सभी घरों में टॉयलेट तक बने हुए हैं। इन शौचालयों को इंस्पेक्शन चेंबर और मेन होल्स के जरिए लगभग दो किलोमीटर लंबी सीवरेज लाइन से जोड़ा गया है।

आपको जानकर हैरानी होगी, कि इस गांव में किसी शहर जितनी ही सुविधाएं उपलब्ध हैं। यहां मानव निर्मित तीन किलोमीटर नहर बनाई गई है, जिसे 8 परकोलेशन टैंक के माध्यम से जोड़ा गया है। गलियों में रोशनी के लिए जगह-जगह पर सोलर लाइटें लगाई गई हैं। इतना ही नहीं, बच्चों के लिए स्कूल में आधुनिक शौचालय भी बनाए गए हैं। तो वहीं, छात्रों के लिए कंप्यूटर शिक्षा देने की व्यवस्था भी की गई है।

इसी के साथ आपको बता दें कि, भारतीय राजस्व सेवा के अधिकारी डॉ.सत्यपाल सिंह मीना ने ‘सोच बदलो-गांव बदलो’ की मुहिम के जरिए ग्रामीणों के आपसी सहयोग से इस गांव का विकास किया हैं। मीना ने गांववासियों को जागरूक करने के लिए हर घर में शौचालय, चौड़ी सड़के, वृक्षारोपण और एक कम्युनिटी सेंटर बनवाये है। गौरतलब है कि, राजस्थान के धनौर गांव की तरह जल्द देश के सभी गांव स्मार्ट गांव बनने में सफलता हासिल करेंगे।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password