कर्नाटक में सिद्धारमैया के यह 5 दांव बीजेपी पर पड़ रहे है भारी

एक के बाद एक राज्यों में हार रही कांग्रेस के लिए कर्नाटक अब नाक का सवाल बन गया है अब ऐसे में कांग्रेस हर हाल में कर्नाटक को जीतना चाहती है और इसी लिए कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया कोई भी मौका नहीं चूक रहे है और सिद्धारमैया के फैसलों की चाल को बिगड़ने में बीजेपी परेशान नजर आ रही है बीजेपी के पास फिलहाल कोई भी कांग्रेस का तोड़ नजर नहीं आ रहा है

यह है वह 5 बड़े कारण जिन से कांग्रेस एक बार फिर कर्नाटक में वापसी कर सकती है
1) लिंगायतों को अलग धर्म का दर्जा
2) राज्य का अलग झंडा)
3) कावेरी पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला पक्ष में आया
4) क्षेत्रीयता को बढ़ावा
5) बजट में बड़ी-बड़ी घोषणाएं
सिद्धारमैया सरकार ने चुनाव से पहले अपना लगातार छठा बजट पेश किया। इस बजट के माध्यम से भी राज्य की कांग्रेस सरकार ने इस तीर से कई निशान साधने की कोशिश की और लोकलुभावना बजट पेश किया। राज्य में छठे वेतन आयोग की सिफारिशों को अमल में लाने के लिए राज्य सरकार 5.93 लाख कर्मचारियों और 5.73 लाख पेंशनरों पर 10,508 करोड़ रुपए खर्च करेगी। कर्मचारियों के वेतन ढांचे में 30 प्रतिशत वृद्धि की सिफारिश की है। सिद्धारमैया सरकार ने मुख्यमंत्री अनिला भाग्य योजना की घोषणा की है जिसके तहत दो चूल्हे वाला गैस स्टोव और दो गैस सिलेंडर निःशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। किसानों की मदद के लिए रैयत बेलाकू योजना की भी घोषणा की है जिसमें वर्षा पर निर्भर खेती करने वाले प्रत्येक किसान को अधिकतम 10,000 रुपए और न्यूनतम 5,000 रुपए प्रति हेक्टेयर के हिसाब से राशि की सहायता सीधे उनके बैंक खातों में डाली जाएगी।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password