मशरूम की खेती से सालाना 13 लाख रूपए कमा रही हैं रत्ना

मशरूम की खेती से सालाना 13 लाख रूपए कमा रही हैं रत्ना

मशरूम की खेती से सालाना 13 लाख रूपए कमा रही हैं रत्ना

ये उस महिला रत्ना की कहानी हैं। जिसने मुश्किल परिस्थितियों से डटकर मुकाबला किया और एक बड़े मुकाम पर पहुंची। रायपुर के आरंग विकासखंड के गांव अमेरी की रत्ना वर्मा ने विपरीत परिस्थितियों में  अपना व्यवसाय शुरू कर अपने व अपने परिवार को संभाला, जिससे की आज आजीविका मिशन के तहत स्वंसहायता समूह बनाकर मशरूम उत्पादन और जैविक दवाएं बनाकर वो हर महीने 13 लाख रुपये तक कमा रही हैं।

मशरूम की खेती से सालाना 13 लाख रूपए कमा रही हैं रत्ना

रत्ना के  घर की माली हालत ठीक नहीं थी। जिससे उनका गुजारा तक मुश्किल से हो रहा था । तो उन्होंने अपने घर से ही कोई काम शुरू करने के बारे में सोचा। इसी दौरान गांव में किसी ने बताया कि अगर वो मशरूम की खेती करे तो उससे वो अच्छी आमदनी कमा सकती हैं और धीरे-धीरे रत्ना ने काम करना शुरू भी किया, मगर पैसे की कमी रास्ते में रुकावट बनने लगी। इसके बाद रत्ना को  आजीविका मिशन बिहान के बारे में पता चला। जिससे जुड़ कर रत्ना ने  स्व सहायता समूह खुशी बनाई और इस समूह में आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को भी अपने साथ जोड़ा और शुरवाती पहले महिने में साढ़े चार हजार रुपये की आय हुई। हालांकि उस वक़्त उनकी मशरूम की बिक्री सिर्फ लोगों के घरों तक ही समिति थी।

लेकिन वो दिन ज्यादा दिन नहीं चले, रत्ना की मशरूम लोगों को इतनी पसंद आने लगी की वे मशरूम की पैकेजिंग कर इसकी आपूर्ति होटल और दुकानों में करने लगीं। जिसके बाद आय में इजाफा भी  होने लगा। क्वॉलिटी होने के कारण इसकी डिमांड इस कदर बढ़ गई कि हर महीने 13 लाख रुपये की आय होने लगी और देखते ही देखते उनकी मशरूम की डिमांड के लिए एडवांस में बुकिंग का सिलसिला भी शुरू हो गया और आज आजीविका मिशन ने उनकी काबिलियत को देखते हुए उन्हें कृषि मित्र नियुक्त किया हैं। हालांकि इनके समूह में लगभग 13 महिलाएं ही हैं। लेकिन आज अप्रत्यक्ष रूप से 50 से अधिक परिवारों को इनके व्यवसाय का लाभ मिल रहा हैं। रत्ना एक मॉडल स्वसहायता समूह के रूप में बिहान बाजार, कृषि मेला, लोक सुराज व मिशन 25-25 कार्यक्रम में मशरूम उत्पाद का स्टाल वे भी लगा चुकी हैं। रत्ना के मशरूम की डिमांड बढ़ने के कारण रत्ना आज मशरूम का अचार, मशरूम का पोषण आहार, पाउडर व फेस पैक आादि भी तैयार करने लगी हैं।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password