घर की छत पर ऑर्गेनिक खेती कर रहे प्रदीप कुमार बने मिसाल

घर की छत पर ऑर्गेनिक खेती कर रहे प्रदीप कुमार बने मिसाल

घर की छत पर ऑर्गेनिक खेती कर रहे प्रदीप कुमार बने मिसाल खेतों में कीटनाशकों के बढ़ते प्रयोग और उससे होने वाली बीमारियों को देखते हुए अब लोगों का रुख ऑर्गेनिक खेती की तरफ बढ़ने लगा है। ऑर्गेनिक खेती की तरफ़ लोगों की दिलचस्पी इस कदर बढ़ने लगी है कि अब लोगों ने अब अपने घरो की छतों पर ऑर्गेनिक खेती करना शुरू कर दिया है। चौंकने की जरूरत नहीं हैं। उतर प्रदेश में सहारनपुर शहर के मोहल्ला पंतनगर निवासी प्रदीप कुमार इन दिनों अपने मकान की छत पर ऑर्गेनिक सब्जियों की खेती कर रहे हैं।

मुन्ना लाल डिग्री कॉलेज के प्रोफेसर डॉक्टर पंकज छाबड़ा कॉलेज परिसर की आवासीय कालोनी में रहते हैं। पंकज अपने मकान की ही छत पर सब्जियां उगाते हैं। जिसमें उनका ज्यादा खर्चा भी नहीं होता। बल्कि रसोई में खाने –पीने का जो सामान बेकार हो जाता है, उसी से वो ऑर्गेनिक खाद तैयार करते है। प्रदीप कुमार बतातें हैं कि उन्होंने सबसे पहले अपनी छत पर प्लेटफॉर्म बनवाया और उसमें कम्पोस्ट, पत्तियों से बनी खाद और थोड़ा सा रेत मिलाकर करीब एक फुट डाल दिया। खास बात ये है कि कम्पोस्ट खाद, किचन वेस्ट और पत्तियों के खाद को मिलाकर बनाया जिसके बाद उस कम्पोस्ट में सब्जियों की बिजाई कर हल्की सिंचाई हर रोज़ की और फिर उन्होंने सितंबर में टमाटर के बीज को क्यारी में लगाया और नवंबर के पहले सप्ताह से उन्हें टमाटर मिलने लगा। जिससे कि एक पौधे से 150 से 200 टमाटर एक सीजन में उन्हें मिल जाते हैं। फिलहाल उन्होंने टमाटर, मेथी, बैंगन और सरसों की सब्जी उगा रखी हैं। जो दैनिक इस्तेमाल में आती हैं।

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password