उन्नाव गैंगरेप मामले में अब CBI करेगी की जांच

यूपी सरकार ने उन्नाव गैंग रेप मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है,  जिसके बाद मामले की जांच सीबीआई को सोप दी गई, 

उन्नाव गैंग रेप मामले ने अब एक अगल रुख मोड़ लिया है. उन्नाव गैंग रेप मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है. विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ आईपीसी की धारी 363 अपहरण, 366 अपहरण कर शादी के लिए दवाब डालना, 376 बलत्कार, 506 धमकाना और पॉस्कोश एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है. SIT की शुरुआत की रीपोर्ट के बाद विधायक कुलदीप सेंगर के खिलाफ मामला दर्ज करने का फैसला लिया. अब इस मामले की जांच सीबीआई को सोप दी गई है. बता दे कि इसके अलावा उन्नाव जिले के अस्पताल के CMS और EMO यानी इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर को सस्पेंड कर दिया है. और ठीक से इलाज ना करने पर आरोप में तीन डॉक्टर के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरु की जाएगी. इसी के सफीपुर के सीओ को भी सस्पेड करने का फैसला किया गया. बुधवार रात बीजेपी के विधायक कुलदीप सेंगर लखनऊ में एसएसपी ऑफिस अपने कई समर्थकों के साथ गाड़ियों के पूरे काफिले के साथ पहुंचे थे. उनके समर्थकों का कहना था कि वो सरेंडर करने पहुंचेंगे, लेकिन विधायक कुलदीप सेंगर ने कहा कि मीडिया जहां बोलेगी मै वहां आऊंगा. उसके बाद वो समर्थकों के साथ वो वापस लौट गए. विधायक करीब 40 गाड़ियों के साथ आए थे और साफ है उन्होंने SSP ऑफिस के बाहर शक्ति प्रदर्शन किया. अब उन्नाव गैंग रेप मामले पर आज इलाहाबाद हाईकोट में सुनवाई होगी और हाइकोर्ट ने इस मामले में एमिक्स क्यूरी भी नियुक्त किया है. वहीं सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर अगले हफ़्ते सुनवाई करेगा. वहीं आरोपी विधायक की पत्नी ने कहा है कि लड़की झूठ बोल रही है. कोई बलात्कार नहीं हुआ है. मेरे पति निर्दोष हैं. दोनों का नार्को टेस्ट करा लिया जाए, जिससे सच सामने आ जाएगा. पीड़िता इंसाफ के लिए एक महीने सेे लड़ रही है. इस मामले में पीड़िता ने अपने पापा को भी खो दिया. पीड़िता ने कहा है कि अब बस उसको इंसाफ मिले और उसके गुनहगारों को कड़ी से कड़ी सज़ा मिले.

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password