Grameen News

True Voice Of Rural India

History of 8th July- 1972 में सौरव गांगुली का जन्म

1 min read
History of 8th July

Sharing is caring!

  1. आज ही के दिन साल 1497 में वास्को दे गामा ने अपनी भारत यात्रा की शुरुआत की थी। यूरोपीय सागर से होते हुए हिन्द महासागर तक जहाज लेकर आना बहुत ही मुश्किल और खतरनाक काम हो सकता था. इसलिए वास्को अपने साथ करीब 170 लोगों का क्रू भी ले गए। इसके बाद लिस्बन से उन्होंने अपनी यात्रा शुरू की. इस दौरान उन्होंने कई जगह पर अपने स्टॉप बनाए. वास्को के पास बड़े 4 जहाज थे. उन्हें इनके साथ करीब 10,000 किलोमीटर की यात्रा की. करीब दो साल तक समुद्र में यात्रा करने के बाद 20 मई 1498 को वास्को दे गामा ने भारत की धरती पर अपनी कदम रखे
  2. आज ही के दिन साल 1914 में दुनिया के सबसे लंबे वक्‍़त तक मुख्यमंत्री और वामपंथी राजनीति के आधार रहें ज्‍यो‍ति बसु का जन्‍म हुआ था। ज्‍यो‍ति बसु का जन्‍म कोलकाता मे हुआ। ज्योति बसु 1977 से 2000 तक यानी की 23 साल तक वो पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री रहें। ज्योति बासु का ना भारत के इतिहास मे दर्ज है वो भी इसलिए क्योंकि ज्‍यो‍ति बसु का जन्‍म किसी भी राज्य के सबसे लंबे समय मुख्यंमत्री रहे थे। 95 साल की उम्र मे आकर 2010 मे उन्हें देश को हमेशा के लिए अलविंदा कर दिया।
  3. कभी एक वक्त था कि सेना सिर्फ और सिर्फ पुरुषों के लिए ही हुआ करती थी. महिलाओं को इसका हिस्सा बनने की इजाजत नहीं दी जाती थी. इतना ही नहीं अमेरिका जैसे देश में भी महिलाओं को सेना से जुड़ने नहीं दिया जाता था. हालांकि 8 जुलाई साल 1948 को ये बात पूरी तरह से बदल गई. आज ही के दिन साल 1948 मे पहली बार अमेरिकी एयरफोर्स में एक महिला जुड़ी. उस समय इस महिला फोर्स को WAF यानी Women Air Force के नाम से जाना जाता था. महिलाएं इससे जुड़ तो गई थीं मगर उन्हें फिर भी पुरुषों जैसी इज्जत नहीं दी जाती थी. उन्हें केवल मेडिकल और एयरफोर्स बैंड का काम ही दिया जाता था. इसके बहुत सालों बाद जाकर आज महिलाओं को भी पुरुषों के बराबर सम्मान दिया जाता है.
  4. आज ही के दिन साल 1972 में सौरव गांगुली का जन्म हुआ था. सौरव एक बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं आज भी विश्व के सर्वश्रेष्ठ बाएं हाथ के बल्लेबाजों में सौरव गांगुली का नाम आता है. जब भी सौरव गांगुली ईडन गार्डन के मैदान में बल्ला लेकर उतरते थे, तो पूरा मैदान ‘दाद-दादा’ के शोर से गूंज उठता था. तालियों की गडगडाहट इतनी तेज होती थी कि किसी को कुछ सुनाई नहीं देता था. बंगाल में तो सौराव गांगुली के नाम का एक अलग ही दबदबा है. उन्हें बंगाल के राजकुमार के नाम से भी जाना जाता है
  5. आज ही के दिन साल 2003 में ईरान की सिर से जुड़ी दो बहनें लालेह और लादन बिजानी का निधन हो गया। दोनो बहनो को अलग करने के लिए एक ऑपरेशन किया गया जो असफल रहा जिसके वजह से दोनो बहनो की मौत हो गई बता दे की दोनो बहने उस समय बस 29 साल की थी। ऑपरेशन मे दोनो बहनो के दिमाग को एक एक मिलीमीटर काटा गया बता दे की यह ऑपरेशन तीन दिन तक चला।
  6. आज ही के दिन साल 2007 में देश के 9वें प्रधानमंत्री चंद्रशेखर सिंह का निधन हो गया था। चंद्रशेखर देश मे 1990 से लेकर 1991 तक प्रधानमंत्री रहे। बता दे की देश की परेशानी और परिस्थितियो को समझने के लिए उन्होंने1983 मे पूरे देश की पदयात्रा की थी।

Kisan और खेती से जुड़ी हर खबर देखने के लिए Green TV India को Subscribe करना ना भूले ::

https://www.youtube.com/user/Greentvindia1

Green TV India की Website Visit करें :: http://www.greentvindia.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *