History of 15th May-बॉलीवुड की धक धक गर्ल माधुरी दीक्षित का जन्म

History of 19th May

History of 15th May

आज ही के दिन साल 1907 में सुखदेव थापर का जन्म हुआ था। सुखदेव थापर ने शहीदे आजम भगत सिंह और राजगुरू के साथ हंसते-हंसते फांसी के फंदे पर लटक गए थे। सुखदेव थापर 23 मार्च के दिन भारत के स्‍वतंत्रता सेनानियों भगत सिंहराजगुरु और सुखदेव को फांसी दी गई थी। महात्‍मा गांधी और उनके समर्थकों के अहिंसा आंदोलन की तरह भारत की आजादी में इन लोगों का भी अहम योगदान रहा है। 15 मई 1907 को जन्‍मे सुखदेव सबसे चर्चित क्रांतिकारियों में से एक रहे हैं जो कि लाला लाजपत राय की मौत के खिलाफ हुए प्रदर्शन और ब्रिटिश अफसर सॉन्डर्स की हत्‍या का हिस्‍सा रहे थे

आज ही के दिन साल 1940 में रिचर्ड और मौरिस मैकडॉनल्ड्स नाम के दो भाइयों ने मिलकर कैलिफोर्निया के सैन बर्नार्डीनो में छोटा सा रेस्तरां खोला था. आज फास्ट फूड रेस्तरां की चेन दुनिया में सबसे बड़ी है. फिलहाल मैकडॉनल्ड्स के 119 देशों में 35,000 आउटलेट्स हैं.

आज ही के दिन बॉलीवुड की प्रसिद्ध अभिनेत्री माधुरी दीक्षित का जन्म साल  1967 को महाराष्ट्र के मुंबई शहर में हुआ था। हिंदी सिनेमा की एक अलग पहचान हैं अभिनेत्री माधुरी दीक्षित। जिन्हे आज भी दर्शक बड़े पर्दे पर देखने के लिए आतुर हैं। माधुरी दीक्षित सिर्फ एक अदाकारा ही नहीं बल्कि हिंदी सिनेमा की डांसिंग डिवा भी हैं।  उन्होंने अपने हिंदी फ़िल्मी करियर में कई बेहतरीन फ़िल्में कीजिन्हे दर्शक आज भी बड़े चाव से देखतें हैं।  माधुरी को हिंदी सिनेमा में उनके बेहतरीन अदाकारी के लिये चार बार फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री एक बार फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री और एक स्पेशल अवार्ड से नवाजा जा चुका है। इन सभी पुरुस्कारों के अलावा उन्हे भारत सरकार् के चतुर्थ सर्वोच्च नागारिक सम्मान ” पद्मश्री ” से सम्मनित किया गया।

 साल 1974 में इसी दिन इसराइल के एक स्कूल में बंधक बनाईं गई 16 किशोरियों की मौत हो गई. साथ में तीन फ़लस्तीनी भी मारे गए ।जब इसराइल की सेना इन बच्चों को छुड़ाने के लिए स्कूल की इमारत में पहुँचीतो फ़लस्तीनियों ने हथगोले से इन किशोरियों पर हमला कर दिया समझा जाता है कि इस हमले के बाद हुई गोलीबारी में एक इसराइली सैनिक भी मारा गया.इस घटना में सात बच्चे घायल हो गए थे.

आज ही के दिन अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाया जाता हैं। परिवार का स्थान हर व्यक्ति के जीवन में सबसे पहला होता है।इसलिए आधुनिक समाज में परिवारों के महत्त्व को उजागर करने के उद्देश्य से दुनियाभर में 15 मई को अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाया गया। यह दिन परिवार के सदस्यों में समानता और घरेलू जिम्मेदारियो को मिलजुल कर पूरा करने की भावना विकसित करने में सहायक है संयुक्त राष्ट्र जनरल एसेंबली ने साल 1993 में परिवार के महत्व को दर्शाने के मकसद से 15 मई को हर साल अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाने की घोषणा की थी। इस साल यानी साल 2018 का परिवार दिवस का थीम है- परिवार और विस्तृत समाज।‘ दरअसलबदलते समय के साथ परिवार के मायने और मतलब भी बदलते जा रहे हैं। संयुक्त परिवारमूल परिवार के रूप में छोटा हो जाता जा रहा है। लिहाजा आने वाले वक्त में स्थिति और खराब न हो जाए इसलिए जरूरी है कि परिवार के बच्चों को कुछ फैमिली वैल्यूज सिखाए जाएं.

 

 

Grameen News के खबरों को Video रूप मे देखने के लिए ग्रामीण न्यूज़ के YouTube Channel को Subscribe करना ना भूले  ::

https://www.youtube.com/channel/UCPoP0VzRh0g50ZqDMGqv7OQ

Kisan और खेती से जुड़ी हर खबर देखने के लिए Green TV India को Subscribe करना ना भूले ::

https://www.youtube.com/user/Greentvindia1

Green TV India की Website Visit करें :: http://www.greentvindia.com/

0 Comments

Leave a Comment

Login

Welcome! Login in to your account

Remember me Lost your password?

Lost Password