Grameen News

True Voice Of Rural India

History of 10th Sep- World Suicide Prevention Day

1 min read
History of 10th Sep

History of 10th Sep

Sharing is caring!

आज 10 सितंबर है। आज के दिन को दुनियाभर में वर्ल्ड सुसाइड प्रिवेंशन दिवस के रूप में मनाया जाता है। लेकिन आज के दिन को अगर इतिहास के झरोखें से देखें तो आज का दिन भारत और विश्व इतिहास में अपना एक खास महत्व रखता है। आज के दिन इतिहास घटित कई ऐसी महत्वपूर्ण घटनाएं हैं  जो सुनहरे अक्षरों में इतिहास के पन्नो में दर्ज हैं। तो चलिए जानते हैं इतिहास में आज के दिन के महत्व को।

वर्ल्ड सुसाइड प्रिवेंशन डे
10 सितंबर को वर्ल्ड सुसाइड प्रिवेंशन डे के तौर पर हर साल पूरे विश्व में मनाया जाता है। इस दिन को दुनिया में सुसाइड के बढ़ते मामलों को रोकने के लिए जागरूकता फैलाने के लिहाज से देखा जाता है। इसके लिए आयोजन International Association for Suicide Prevention (IASP) WHO के संग मिलकर करता है। एक स्टडी के अनुसार पूरी दुनिया में हर साल करीब 8,00,000 से 10,00,000 लोग आत्महत्या करते हैं। इस हिसाब से इंसानों की मौत के कारक के रूप में आत्महत्या का स्थान 10वां है।

रणजी का जन्मदिन
भारत के महान टेस्ट क्रिकेटर रंजीत सिंहजी जिन्हें रणजी के नाम के जाना जाता है उनका जन्म 10 सितंबर को ही सन् 1872 में हुआ था। वे नावानगर के राजा भी थे और साथ ही अपने जमाने के बेस्ट टेस्ट प्लेयरों में से एक थे। वैसे तो रणजी अंग्रेजी क्रिकेट टीम के लिए खेलते थे लेकिन उन्होंने केम्ब्रिज यूनिवर्सिटी और कंट्री क्रिकेट फॉर सुसेक्स के लिए भी अपने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन दउुनिया को दिखाया था। आज उन्हीं के नाम पर एणजी ट्राफी का आयोजन होता है।  क्रिकेट के सेक्सपीयर माने जानेवाले Neville Cardus ने उनके खेल के बारे में बताते उए उन्हें “the Midsummer night’s dream of cricket” बताया था। उन्होंने क्रिकेट के पुराने टेक्निक को खत्म कर कई नए बैटिंग स्टाइल का भी इनोवेशन किया।

जापान  में बाढ़
साल 2015 में आज 10 दिसंबर को ही जापान के पूर्वोत्तर इलाके में भीषण बाढ और भूस्खलन के कारण 90 हजार के करीब लोग बेघर हो गए थे। भारी ट्रॉपिकल स्टॉम के कारण जपान के इस इलाके में भारी बारिश और लैडस्लाइड आई। कई इलाको में तो 48 घंटों में 50 सीएम तक की बारिश हुई। इसी भारी तबाही के कारण करीब 7.6 मिलियन डॉर की खड़ी फसलें तबाह हो गई। इस भारी तबाही से उबरने के बाद जापान ने बाढ़ को लेकर कई सारी परियोजनाएं चालू की ताकि एसे समय में भारी तबाही को टाला जा सके।

सोवियत संघ का परमाणु परीक्षण
विश्वयुद्ध के बाद अमेरिका और यूएसएसआर के बीच शीत युद्ध शुरू हो गया था। इसी कारण दानों ही देश हथियारों की होड़ में लग गई थी। अमेंरिका जो की पहले ही अपनी न्यूक्लियर पावर को विस्त्र युद्ध को दिखा चुका था, उससी बराबरी करने की होड़ में सोवियत संघ भी लगातार परमाणु बमों का परीक्षण कर रहा था। इसी कडी में सोवित संघ ने एक परमाणु बम का परीक्षण साल 1961 में उसने वर्ष 1961 में नोवाया जेमलिया में 10 सितंबर को किया था।

पंजाब और हरियाणा का गठन
वहीं आज के ही दिन भारतीय संसद ने साल 1966 में पंजाब एवं हरियाणा के गठन को मंजूरी दे दी थी। बता दें कि अजादी के बाद 1955 में पंजाबी सूबा जिन्दाबाद मोर्चे का गठन मास्टर तारा सिंह के नेतृत्व में हुआ था। वहीँ 1954 में राज्य पुनर्गठन आयोग के आगे कांग्रेस के कुल 24 विधायकों ने हरियाणा प्रान्त फ्रंट के नाम से  ने अपनी स्टेटमेंट दर्ज कराई जिसमें उन्होंने हरियाणा प्रान्त की मांग रखी. इनका मानना था कि गैर पंजाबी भाषियों को राज्य में राजनीतिक नेतृत्व का मौका नहीं मिल रहा और इस इलाके के किसानों के साथ भी गैर जैसा व्यवहार होता है। कई बहासों के बाद आखिरकार संसद ने पंजाब और हरियाणा नाम के दो नए राज्यों के गठन की मंजूरी दे दी।

इंडियन एयरलाइंस का बोइंग 737 विमान हाइजैक
10 सितंबर साल 2015 को ही इंडियन एयरलाइंस का बोइंग 737 विमान 1976 में लाहौर से हाइजैक कर लिया गया था। इस विमान के सभी पैसेंजरों और क्रू मेंबरर्स को सुरक्षीत लाने के लिए भारत—पाकिस्तान ने मिलकर काम किया था। बड़ी बात यह थी की इस दौर में देश में इमरजेंसी लगी हुई थी, ऐसे में विमान का हाइजैक होना अपनेआप में बड़ी मुसीबत बन गई थी। 10 सितंबर को सुबह करीब साढ़े सात बजे यह विमान दिल्ली के पालम हवाई अड्डे से 77 यात्रियों के साथ मुंबई के लिए उड़ा था। लेकिन टेक-ऑफ के कुछ ही मिनटों बाद दो अपहरणकर्ता कॉकपिट में आ गए और पायलट को पिस्तौल दिखाकर विमान का अपहरण कर लिया। अपहरणकर्ता विमान को लीबिया ले जाना चाहते थे। लेकिन पायलट और सह-पायलट की टीम ने पेट्रोल ना होने की बात कही और पायलट की समझदारी से विमान को लाहौर में लैड कराया गया।

 

खेती-बाड़ी और किसानी से जुड़ी सभी जानकारियों के लिए नीचे दिए लिंक को सब्सक्राइब करें-

https://www.youtube.com/user/Greentvindia1/videos

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *